WhatsApp चैट को रखना चाहते हैं एकदम प्राइवेट? जानिए WhatsApp चैट को हैकिंग से बचाने के टिप्स


एक दूसरे को मैसेज भेजने के लिए लोग सबसे ज्यादा व्हाट्सएप यूज करते हैं लेकिन साथ ही यूजर्स को ये डर भी लगा रहता है कि कहीं उनकी कोई प्राइवेट चैट लीक ना हो जाए। हालांकि कई बार लोग सोचते हैं कि चैट परट करने के बाद वह परमानेंट अलट हो जाता है। लेकिन ऐसा नहीं है और सॉफ्टवेयर या हैकर वो चैट रिकवर कर सकते हैं। अगर आप चाहते हैं कि आपका व्हाट्सएप चैट बिल्कुल लीकप्रूफ हो तो इन बातों का जरूर ध्यान रखें

1- सेफ नॉट चैट बैकअप- कई बार व्हाट्सएप में एक ऑप्शन आता है कि आप अपनी चैट का बैकअप लेना चाहते हैं। कई बार लोग चैट का बैकअप Google ड्राइव, आई क्लिप या ई मेल में रखते हैं। लेकिन इस फीचर से भी व्हाट्सएप चैट लीक हो सकता है। WhatsApp चैट का बैकअप लेने से और तु और एनक्रिप्शन खत्म हो जाता है। यानी वो चैट जो सिर्फ दो यूजर्स के बीच था अब वो दूसरे सिस्टम पर भी है और इस कारण से सिफ नहीं। अगर आप चैट को फोन से मैसट करने के बाद हर जगह से एमएसट करना चाहते हैं तो जहां आपने व्हाट्सएप चैट सेव की है जैस गूगल ड्राइव या आई प्रोफाइल तो वहां ईमेल आईडी से लॉगिन करके उसे व्हाट्स भी कर सकते हैं। चैट डिसेबल करने के लिए व्हाट्सएप सेटिंग> चैट> चैट बैकअप> Google ड्राइव विकल्प पर वापस जाएं> कभी न चुनें

2- एन्क्रिप्शन एन्क्रिप्शन चेक करें- व्हाट्सएप चैट एन पैकेजिंगेड होता है जिसका मतलब है कि यह डेटा सेक्योर होता है और इसे हर कोई नहीं पढ़ सकता है। लेकिन हम ये देख सकते हैं कि हमारी चैट रद्द हो चुकी है कि नहीं। आप व्हाट्सएप चैट ओपन करके अपने नाम पर क्लिक करें और उसके बाद एनक्रिप्शन ऑप्शन पर क्लिक करें। टैप करने के बाद एक-अप विंडो आयेगी.जिसमें क्यूआर कोड और नीचे 40 डिजिट का कोड दिखाई देता है। ये सिक्योरिटी कोड ही WhatsApp आइडेंटिटी होता है। इस कोड को दूसरे के साथ भी शेयर कर सकते हैं। आपकी वॉट्सऐप चैट सेफ है कि नहीं ये जानने के लिए फोन में दिखाई दे रहे कोड को दूसरे यूजर के कोड से वेरिफाई कर रहे हैं। अगर दोनों को एक समान कोड दिखाई दे रहे हैं तो समझें आपकी चैट सेफ है

3- स्टेप वैरिफिकेशन जरूरी- व्हाट्सएप जाये सेटिंग्स में जाएं खाते में और फिर स्टेप वैरिफिकेशन पर क्लिक करें। यहां आप ए। पर क्लिक करें। जिसके बाद आप 6 डिजिट वैरिफिकेशन कोड डाल सकते हैं। इस कोड की जरूरत तब होगी जब आप regord मोबाइल नंबर से व्हाट्सएप दुबारा लॉगिन करते हैं। इस कोड के डालने के लिए ईमेल आईडी भी पूछी जाती है ताकि अगर कभी आप 6 डिजिट वैरिफिकेशन कोड भूल जायें तो ईमेल के माध्यम से वो पिन रीसैट कर सकें। इसका मेनू> सेटिंग्स> खाता> दो-चरणीय सत्यापन> सक्षम करें।

4- हमसे संपर्क करें या लॉक करें उपयोगकर्ता व्हाट्सएप में बुकिंग या फेस-आईडी का यूज कर सकते हैं। पांडा फोन यूज करने वाले इसे आसानी से एक्टिवेट कर सकते हैं। इस लॉक का ये भी फायदा है कि फोन अगर किसी ओर से पास है या चोरी हो जाए तो भी आपकी वॉट्सएप चैट को कोई दूसरा नहीं पढ़ सकता है। फेस या लॉक लॉक के लिए व्हाट्सएप की सेटिंग्स में जायें और फिर अकाउंट्स> प्राइवेसी> फिंगरप्रिंट अनलॉक पर क्लिक करें

5-गलत नंबर ओपन न करें- अनजान नंबर से आने वाली व्हाट्सएप नंबर को ओपन न करें।ये कोई रियर या हेलिंग सॉफ्टवेयर हो सकता है जो आपके व्हाट्सएप चैट कर सकता है। किसी भी अनजान नंबर से भीस फाइल को डाउनलोड न करें। आप चाहें तो सेटिंग्स> खाता> गोपनीयता> समूह> मेरे संपर्क पर क्लिक कर सकते हैं, जिससे कोई अनजान आपको वॉट्सएप पर मैसेज नहीं भेज सकता है।





Source link

Leave a Reply