पब्लिक प्लेस पर भूलकर भी चार्ज न करें स्मार्टफोन, डेटा चोरी कर हैकर्स कर सकते हैं अकाउंट साफ, ऐसे करें बचाव


अक्सर हम घर से बाहर होते हैं और हमारे फोन की बैटरी खत्म होने लगती है तो हम जल्द ही सार्वजनिक स्थान पर लगे हुए चार्जर से अपना फोन चार्ज करने लगते हैं। ये कितना खतरनाक साबित हो सकता है, इसका आपको अंजाजा भी नहीं है। वास्तव में ये चार्जिंग पॉइंट्स पर हैकर्स की नजर होती है। ये आपके फोन का डेटा लीक कर रहे हैं और आपको इसके बारे में पता नहीं चलना चाहिए।

हैकर्स ऐसे बनाते हैं शिकार
पब्लिक प्लेस जैसे रेलवे स्टेशन, बस स्टॉप, मॉल आदि पर इस तरह के चार्जिंग प्वाइंट्स अक्सर आपको मिलेंगे। हैकर ऐसे चार्जिंग प्वाइंट्स पर अपना शिकार तलाश करते हैं जहां पर ज्यादा लोग अपना फोन चार्ज करते हैं। इन चार्जिंग प्वाइंट्स पर लगी USB से अगर आप अपना फोन चार्ज करते हैं तो उसमें मौजदू बैंक एप्स का लॉग इन, फेसबुक, व्हाट्सऐप, इन्टरनेट, जीमेल सहित यूपीआई एप्स का पासवर्ड और डेटा हैकर्स के पास चला जाता है। ये USB आपके फोन का सारा डेटा कॉपी कर लेती है उसके बाद हैकर आपके बैंक खाते को साफ कर देते हैं।

मेलवेयर कर रहे हैं स्थापित कर रहे हैं
यही नहीं हैकर्स इस USB की मदद से आपके फोन में वायरस इंस्टॉल कर देते हैं जो फोन तो चार्ज करेगा ही, डेटा भी कॉपी हो जाएगा। हैकर्स इसे खुद कहते हैं कि वे कितने समय का डेटा चोरी करना है। इसमें कुकीज के जरिए डेटा कॉपी किया जाता है।

ऐसे करें बचाव
इस तरह के हैकर्स का लक्ष्य बनने से बचने के लिए हमेशा पावर बैंक अपने पास रखें या फिर खुद की डेटा केबल का ही इस्तेमाल करें। इमरजेंसी में कभी अगर पब्लिक प्लेस पर फोन जार्च करना पड़ता है तो मोबाइल को बंद करके अपनी ही केबल से चार्ज करें। फोन को बंद करके चार्ज करने से डेटा ट्रांसफर नहीं हो सकता है।

ये भी पढ़ें

सुझाव: चोरी हो जाने के बाद भी ऐसा कर सकते हैं फोन का डेटा हसट, जानें ये आसान तरीका

फेस्टिव सीजन में कर रहे हैं ऑफलाइन शॉपिंग तो हो जाएं सावधान, फर्जी वेबसाइट्स से ऐसे हो रही है ठगी





Source link

Leave a Reply